seo सीखे

SEO के बारे में पूरी जानकारी हिन्दी में


SEO क्या है ?

दोस्तों आज के समय किसी भी विषय के बारे में अगर आप गूगल पर जानकारी खोजते है तो, वह आप आसानी से पा लेते है,
seo image आपके खोजने और data पाने के दरमियान यह बहुत से प्रक्रियाओं से गुजरने के बाद आप तक सही परिणाम आता है, जैसे की आपने जैसे ही कोई एक word खोजते है, तो वह सभी के वेबसाइट में यह पता करता है, की किसमे यह लिखा हुआ मिल रहा है,

अब यहाँ सवाल होता है, की उस word को कोई एक ही वेबसाइट पर तो नहीं लगाया गया होगा, बल्कि ऐसे हजारों वेबसाइट होंगे, तो फिर गूगल किसी भी वेबसाइट को कैसे चुनता है,
इसका जवाब यह है, की गूगल को हम जितना ज्यादा बेहतर अपने वेबपेज के बारे में बता सके, उतना ही ज्यादा SEO के उपर मेहनत करना पढ़ता है !

♥ SEO से जुड़े हुये मुख्य बिंदुओ...
1. SEO क्या है ?
2. SEO क्यों करना चाहिये है ?
3. SEO कितने प्रकार के किये जाते है ?
4. ON PAGE SEO को विस्तार से समझे !
5. OFF PAGE SEO को विस्तार से समझे !


2. SEO क्यों करना चाहिये है ?

दोस्तों seo हमें इशलिये करना चाहिये जिससे की हमारे website पर ज्यादा से ज्यादा visitors को लाया जा सके ! और ऐसा तभी मुमकिन है, जब आप गूगल के जितना ज्यादा और साफ - साफ शब्दों में आसानी से अपने वेबपेज के बारे में बता सके | जिससे की गूगल आपके वेबपेज को पहले पेज में दिखा सके जिससे की visitors आपके वेबसाइट पर जा सके !

3. SEO कितने प्रकार के किये जाते है ?

दोस्तों SEO दो प्रकार के होते है,
1. ON PAGE SEO
2. OFF PAGE SEO

4. ON PAGE SEO को विस्तार से समझे !

4.1. Website Speed :- किसी भी वेबसाइट की आप speed को check कर सकते है !
और चेक करने' के दौरान अगर आपकी
वेबसाइट की speed 1-5 सेकंड तक है, तो fast समझा जाता है !
वेबसाइट की speed 1-10 सेकंड तक है, तो Average समझा जाता है ! इसमें आपको सुधार करने की जरूरत है ! लेकिन अगर आपकी
वेबसाइट की speed 10> सेकंड से ज्यादा है, तो आपको तुरन्त इसमें सुधार करने की आवश्यकता है !
☆ सुधार क्यों करेंगे ? इसका जवाब यह है, की जितना जल्दी आपका वेबसाइट open होगा उतना ज्यादा अच्छा है, लेकिन अगर वेबसाइट खुलने में समय लगता है, तो बहुत से यूजर्स उस वेबसाइट को बंद कर किसी अन्य वेबसाइट पर विजिट करने लग जाते है !

☆ समय को कम करने के उपाय क्या है ?

दोस्तों उपाय करने से पहले हमें यह जानना जरुरी है, की यह किस कारण से जल्दी वेबपेज नहीं खुल पाता है ! तो इसका सबसे बड़ा कारण उस वेबपेज में बड़ी - बड़ी तस्वीर को लगाना, बहुत से css code को लगाना, बहुत से javascript कोड को लगाना !
हमें बड़ी - बड़ी तस्वीर को लगाने से बचना चाहिये, और जब भी image का इस्तेमाल करे तो image को compress कर के करे इससे image ओरिजिनल भी रहेगा और साइज़ भी कम हो जायेगा
हमें बेवजह के कोड इस्तेमाल करने से बचना चाहिये !

4.2. Title Tag :-
इसका होना बहुत जरुरी है, क्योंकी इसकी मदद से वेबसाइट काफी ज्यादा Rank करता है, और इसके साथ गूगल में यह ही show करता है !
Meta Title की लम्बाई 70 अक्षर से ज्यादा नहीं होना चाहिये, कोशिश करे की, आपकी title इसी में व्यवस्थित हो जाये

4.2. Meta Description :-
इसका इस्तेमाल हम इस लिये करते है, ताकि हम गूगल को यह बता सके की हमारा वेबपेज किस प्रकार के लिये है, और जो गूगल में Title Tag show करता है, उसके ठीक निचे में Description show करता है !
Meta Description की लम्बाई 160 अक्षर से ज्यादा नहीं होना चाहिये, कोशिश करे की, आपकी Description इसी में व्यवस्थित हो जाये

आप इस image में देख सकते जो SEO के अंतर्गत Head सेक्शन में लिखा है
head all tag
☆ Hidden Content:-
आपके वेबपेज विल्कुल भी नहीं होना चाहिये
☆ Image Alt Tag:-
image का जब भी आप इस्तेमाल करे तो Alt tag लगाना न भूले
☆ Enable Gzip Compression:-
इससे आपकी वेबसाइट करने से सारे code को compress कर दिया जाता है, जिससे size कम हो जाती है
☆ Bold Important Keyword:-
कोई यदि मुख्य कथन या लाइन हो तो उसे बोल्ड कर दे
☆ Website Structure:-
आपकी वेबसाइट की लुक यूजर के मुताबित होना चाहिये जिससे की उसे किसी भी प्रकार की आपके वेबसाइट पर समस्या न हो जैसे, की font की साइज़ कम से कम 15px रखे !
☆ Keyword Density:-
इसका मतलब की कोई भी Keyword कितनी बार repeat हुआ है, आपके पेज में maximum 5% ज्यादा नहीं होना चाहिये
☆ URL Structure:-
आपके वेबपेज का url का link ऐसा होना चाहिये जिससे की गूगल आसानीसे समझ जाये
Example..

Adarshc.com/p/n?id=2 – wrong way


Adarshc.com/programmer/programmer – Correct way


☆ Responsive Website:- आपकी वेबसाइट Responsive होना चाहिये जिससे की किसी भी Device पा आसानी से व्यवस्थित तरीके से खुल सके !
responsive image
☆ Heading Sequence :-
H1, H2, H3, H4, H5, H6 का ध्यान रखे ! ☆ Post Length :- किसी भी वेबपेज में जितना ज्यादा content हो उतना अच्छा है, लेकिन जाकारी की ही होनी चाहिये, फिर भी कम से कम 1000 शब्दों में होना सही रहता है !
☆ Sitemap :- यह एक प्रकार से आपके साईट का map होता है, जिसमे यह साफ - साफ देख सकते है, की कोई भी link किसके बाद है, और उस link के अन्दर और कितने link है
Sitemap google पर upload करना चाहिये,

5. OFF PAGE SEO को विस्तार से समझे !

दोस्तों इस पेज में मैंने बहुत ज्यादा पोस्ट लिख दी है, इसलिए OFF PAGE SEO सारांश बता सकता हूँ, क्योंकी और ज्यादा पोस्ट लम्बा नहीं करना चाहता हूँ ! कुल मिलाकर दोस्तों इसमें हम किसी भी प्रकार के coading जैसे कार्य को नहीं करते है, तो फिर करते क्या है, इसका सीधा जवाब यह है, की हम लोगों को अपने वेबसाइट के बारे में बताते है, जैसे whatsapp, facebook, twitter, youtube या किसी भी प्रकार के सोशल साईट पर अपना link share कर बताते है ! और किसी दुसरे के वेबसाइट पर जाकर अपना वेबसाइट का link भी comment कर देना, guest post करने के बाद अपना link जोड़ देना ! जिसे backlink भी कहा जाता है !

♥ हमारा यह लेख आपको कैसा लगा comment कर हमें जरुर बताये


w G P

You may like related post:

More Trick Device Course Web-developer Programming-language