KNOW ABOUT DBMS

Database Management System
Database Management System दोस्तों आज के इस लेख में आप Database Management System के बारे में जाननेवाले है,
जैसा की मैं आपको बता देना चाहूँगा, की जब भी आप किसी भी site पर Account बनाते है, तो आपका सारा Information Database में जाकर Store हो जाता है,
और जब भी आप उस site पर दुबारा से आकर Login करना चाहते है, तो आपसे आपका Email/ User name और Password Enter करने होते है,
और जो भी आपने Enter किया है, वह Database में Check करेगा, अगर मिल जाता है, तो आप सफलता पूर्वक Login हो जाते है, अगर Match नहीं करेगा, तो आप Access नहीं कर सकते है |

आज के इस लेख में आप निम्न बिंदुओ के बारे में जानेगे |
1. Database Management System क्या है ?
2. Database Management System के प्रकार कौन - कौन है ?
3. Database Management System के मुख्य घटकों के बारे में लिखे |
4. Database Management System के मुख्य कार्य ?
5. DBMS से मुख्य फायदे क्या है ?
6. DBMS से होनेवाले नुकसान क्या है ?

1. Database Management System क्या है ?
दोस्तों यह दो शब्दों से मिलकर बना हुआ है, (a.) Data (b.) Base

Database Management System storage (a.) Dataऐसे जानकारियाँ जो computer में संग्रहित या इस्तेमाल किया जानेवाला होता है |
Data भिन्न - भिन्न प्रकार के हो सकते है.. Text, Image, Sound, Video.
Data मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है ..
• संख्यात्मक डेटा (Numeric Data)
• चिन्हात्मक डेटा (Alfa Numeric Data)

Database :- यह Data को व्यवस्थित तरीके से संग्रह करने का काम करता है |
और इसे आसानी से Edit, Add, Delete, Update किया जाता है |
इसके उदाहरन SQL Server, MySQL, Oracle Database, Sybase, और Informic है |

Management :- यहाँ पर सिर्फ Data को Manage किया जाता है |

Database Management System :- यह Database बनाने और उसे Edit, Add, Delete, Update करने के लिये एक प्रकार का Software है |
इस Software की सहायता से बहुत ही आसानी से और व्यवस्थित तरीके से अनगिनत Data को संग्रह करने का एक बेहतरीन तरीका है |

2. Database Management System के प्रकार कौन - कौन है ?
type of Database Management System दोस्तों Database मुख्य रूप से तिन प्रकार के होते है ..
• Network Database
• Hierarchical Database
• Relational Database

1. Network Database :- इस प्रकार के Database को Record के रूप में दर्शाया जाता है | और Database के बिच सबंध Link के रूप में दर्शाया जाता है |

2. Hierarchical Database :- इस प्रकार के Database में Data को Nodes के रूप में रखा जाता है |
और साथ - साथ Tree के रूप में भी रखा जाता है | Nodes एक दुसरे से Link के माध्यम से जुड़े हुये होते है |

3. Relational Database :- इस प्रकार के Database में Data Row और Column के रूप में व्यवस्थित होता है |
Rows और Columns होने के कारण इसे Structural Database कहा जाता है |

3. Database Management System के मुख्य घटकों के बारे में लिखे |
♥ Forms :- अगर आप Database में Data को प्रविष्ट कराना चाहते है, तो इसके लिये Form तैयार करना बहुत जरुरी है, क्योंकि इस तरीके को सभी लोग
आसानी से समझ सकते है | अब आप Forms की मदद से जो - जो Data लेना चाहते है | उसके लिये आपको बस Field तैयार करनी है, जैसे Name, Dob, Email id, Mob no., Address..

multiple access technique ♥ Reports :- Database से निकाले हुए Data को Hard-copy पर मुद्रित करना ही Reports कहलाती है |

♥ Field :- Tables के प्रत्येक Columns को Field कहते है | यह Data के विशेष भाग के लिये आरक्षित होता है, जैसे अगर यह Name का Field है,
तो इसमें सिर्फ नाम को ही संग्रह कर सकते है, इसी प्रकार सभी field किसी विशेष Data के लिये आरक्षित होते है |

♥ Queries :- किसी Tables या Database से जरूरत के अनुशार Data निकालने के लिये जो अनुमति ली जाती है, उसे Queries कहते है |
जैसे की अगर आप अपने site पर Login with facebook का Form लगाना चाहते है,
तो इसके लिये आपको पहले facebook से अनुमति लेनी होती है, क्योंकि आप facebook के Database से कुछ Data निकालना चाहते है |

♥ Tables :- यह Relational Database Modal के सबंध में है | जहाँ सभी Data को Tables के रूप में संग्रहित किया जाता है |
और इसे Filter करना, तथा पुन: प्राप्त करना आसान हो जाता है | यह Row और Column के कटाव से बने Cell से मिलकर बना होता है | इसी में Data को संग्रहित किया जाता है |

♥ Record :- Developer या User के द्वारा Entry की हुई Data को Record कहते है |
और यह record किसी भी Form में हो सकता है |

4. Database Management System के मुख्य कार्य ?
♥ Managing Database :-इसे बहुत ही आसानी से Edit कर सकते है |
♥ Updating Database :- अपने आवश्यकता अनुशार Data को Update करना में बहुत ही आसानी होती है |
♥ Data Modeling :-डेटा संग्रह के बनावट को डाटा मोडलिंग के नाम से भी जाना जाता है |
♥ Processing Query :-इसकी मदद से आप डाटा को Manipulate कर सकते है |
♥ Security Of Data :-इसकी मदद से आपका डाटा बहुत ही सुरक्षित रहता है |
♥ Concurrency of Control :-इसे एक बार में कई User Access कर सकते है,
♥ Crash Recovery :-System के Crash होने के बाद भी Database से आप Data को Recover कर सकते है |

5. DBMS से मुख्य फायदे क्या है ?
feature of Database Management System ♥ Backup Recovery
♥ Maintenance of Data Integrity
♥ Better Interaction With Users
♥ Reduction in Data Redundancy
♥ Better Data Sharing
♥ Improvement in Data Security

6. DBMS से होनेवाले नुकसान क्या है ?
♥ Cost of Staff Training
♥ Appointing Technical Staff
♥ Management Complexity
♥ Database Failure
♥ Cost of Hardware and Software

w G P

You may like related post:

Course OS DTP SAD DCA ADCA ADFA DBMS INTERNET MULTIMEDIA