भौतिक विज्ञान का परिचय

भौतिक (PHYSICS)

logo of physics science
भौतिक विज्ञान की परिभाषा :-
भौतिक विज्ञान अथवा भौतिकी शास्त्र, प्रकृति विज्ञान की एक विशाल शाखा है। भौतिक विज्ञान को परिभाषित करना कठिन है। क्योंकि
कुछ विद्वानों के मत के अनुसार यह ऊर्जा का विषय विज्ञान है, और इसके अंतर्गत ऊर्जा के रूपांतरण और उसके द्रव्य सबंधो की विवेचना की जाती है। इसके द्वारा प्रकृति जगत और इसकी आन्तरिक क्रियाओं-कलापों का अध्ययन किया जाता है।
जैसे की... काल, स्थान, प्रकाश, गति, ऊष्मा, विधुत, प्रकाश, द्रव्य तथा ध्वनि इत्यादि और भी अनेक विषय इसके अंतर्गत आते हैं। भौतिक विज्ञान, विज्ञान का एक प्रमुख भाग है। mathematics physics science

भौतिक विज्ञान के इस लेख के मुख्य बिंदुओ...
1. भौतिक विज्ञान की परिभाषा
2. भौतिक विज्ञान का विकास के बारे में संक्षिप्त जानकारियाँ
3. भौतिक विज्ञान के पिता न्यूटन हैं |
4. भौतिक विज्ञान की मुख्य शाखाएं

इसके सिद्धांत सभी विज्ञान में मान्य हैं| और विज्ञान के प्रत्येक अंग में लागू होता हैं। इसका क्षेत्र बहुत ही विस्तृत क्षेत्र है| और इसकी सीमा निर्धारित करना अति दुष्कर है।
इसमें सभी वैज्ञानिक विषय अल्पाधिक मात्रा में इसके अंतर्गत शामिल हो जाते हैं।
विज्ञान की और भी अन्य शाखायें या तो सीधे ही भौतिक पर आधारित होती हैं, या इनके तथ्यों को इसके मूल सिद्धांतों से जुड़े रहने का प्रयास किया जाता है।

2. भौतिक विज्ञान का विकास के बारे में संक्षिप्त जानकारियाँ



'भौतिक विज्ञान' या 'भौतिकी' अंग्रेजी जे शब्द Physics का हिन्दी बदलाव है और यह शब्द यानि की Physics आया है,
ग्रीक भाषा के शब्द फ्यूसिस (fusis) से आया है, जिसका अर्थ होता है ‘प्रकृति’। अतः इसका परिभाषा आप इस प्रकार से दे सकते है, की..

विज्ञान की जिस शाखा के अंतर्गत प्रकृति व इसके घटनाओं का अध्ययन किया जाता है, उसे ही भौतिकी कहा जाता है;
लेकिन प्रकृति वास्तव में द्रव्य, ऊर्जा एवं उनकी अन्योन्य-क्रियाओं की अभिव्यक्ति करता है। अतः विषय-वस्तु की नजर से हम भौतिकी को इस प्रकार से भी परिभाषित किया जा सकता हैं – जैसे की...
“द्रव्य,ऊर्जा तथा उनकी अन्योन्य-क्रियाओं के वैज्ञानिक अध्ययन को भौतिकी कहते हैं।
“ हलाकि सभी वस्तुएं द्रव्य और ऊर्जा से ही बनी हैं, अतः भौतिकी में सभी पदार्थों का अध्ययन समावेश होता है।
इस नजर से भौतिकि एक मूलभूत विज्ञान है।

3. भौतिक विज्ञान के पिता


भौतिक विज्ञान के पिता न्यूटन हैं |
भौतिक विज्ञान के पिता न्यूटन हैं |


4. भौतिक विज्ञान की मुख्य शाखाएं


भौतिकी विज्ञान तथा प्रोधोगिकी

विज्ञान की सभी शाखाओं में भौतिकी विज्ञान के अनुप्रयोग दिखाई देते हैं। प्रोधोगिकी तो अनुप्रयुक्त भौतिकी विज्ञान ही है। संचार, दुरदर्शन, बेतार, रेडियो, आदि में भौतिकी विज्ञान के विधुत-चुम्बकीय सिदांतो का प्रयोग किया जाता है। स्कूटर, मोटरसाईकिल, कार, बस, स्कूटर, आदि में प्रयोग किए जाने वाले अन्तःदहन इंजन, भौतिकी विज्ञान की एक शाखा, ऊष्मागतिकी के सिदांतो पर आधारित है। भौतिकी विज्ञान की प्रमुख शाखाएं
भतिकी विज्ञान को मुख्यतः दो भागों में बांटा जा सकता है –
1. आधुनिक भौतिकी एवं 2. चिरसम्मत भौतिकी

1. आधुनिक भौतिकी (Modern Physics) –


इसमें मुख्यतः 20वीं. शताब्दी से वर्तमान की भौतिकी विज्ञान का अध्ययन किया जाता है। इसकी प्रमुख उपशाखाएँ निम्नलिखित हैं : - flash light in physics science
i. परमाणु भौतिकी

ii. क्वाण्टम भौतिकी

iii. मध्याकार भौतिकी

iv. नाभिकीय भौतिकी

v. आपेक्षिकता का सिध्दान्त

vi. विश्वविज्ञान एवं अन्तरिक्ष अन्वेषण


2. चिरसम्मत भौतिकी (Classical Physics) –


19वीं. शताब्दी तक की भौतिकी विज्ञान को चिरसम्मत भौतिकी विज्ञान कहा जाता है। इसकी प्रमुख उपशाखाएँ निम्नलिखित हैं : - dolan gati
i. यांत्रिकि

ii. विद्युत्-चुम्बकत्व

iii. प्रकाशिकी

iv. ऊष्मा एवं ऊष्मागतिकी

v. ध्वनि एवं तरंग गति

tail star in galaxy
w G P

You may like related post:

विविध के बारे में पढे विज्ञान के बारे में पढे वैज्ञानिक के बारे में पढे जिव विज्ञान के बारे में पढे भौतिक विज्ञान के बारे में पढे रसायन विज्ञान के बारे में पढे विज्ञान एव प्रोधौगिकी के बारे में पढे विज्ञान विषय के अन्य लेख को पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें