रसायन विज्ञान का परिचय

1. रसायन विज्ञान की परिभाषा :-

विज्ञान की वह शाखा जिसके अंतर्गत पदार्थों के भौतिक और रसायनिक गुणों, संघटन, संरचना और उसमें होने वाले भौतिक और रासायनिक परिवर्तनों का अध्ययन किया जाता है,
जिसे रसायन विज्ञान कहते है।
केमिस्ट्री शब्द की उत्पति मिस्त्र देश के जिसका प्राचीन नाम कीमिया से हुई है, कीमिया अर्थ है- कालारंग होता है।


रसायन विज्ञान के इस लेख के मुख्य बिंदुओ... laboratory of chemistry
1. रसायन विज्ञान की परिभाषा
2. रसायन विज्ञान का विकास के बारे में संक्षिप्त जानकारियाँ
3. रसायन विज्ञान के जनक
4. अंटोनी लेवोसियर (Antoine Lavoisier)
5. रसायन विज्ञान की मुख्य शाखाएं
6. रसायन विज्ञान की तत्व को अवश्य देखे !

वर्तमान समय में रसायन विज्ञान, मनुष्य के भौतिक जीवन में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।
इसका इस्तेमाल खाद्य फसलों की उत्पादकता में बढ़ोतरी, स्वास्थ्य की रक्षा, बीमारियों से बचाव, निर्माण सामग्री एवं अन्य मनुष्य उपयोगी सामग्री के निर्माण तथा रख-रखाव में किया जाता है।
मनुष्य जीवन का कोई क्षेत्र ऐसा नहीं हैं, जिसमे रसायन विज्ञान प्रभावित न कर रहा हो।

2. रसायन विज्ञान का विकास के बारे में संक्षिप्त जानकारियाँ



प्रागैतिहासिक मनुष्य ने धीरे-धीरे अपनी आवश्यकता की उन सभी चीजों का आविष्कार किया था। जैसे की, अपने बचाव के लिए पत्थर के औजार और हथियार बनाया। मनुष्य सींग, हड्डी और चमड़े का उपयोग भी करने लगा, लेकिन फिर भी धातुओं की जानकारी में उसे काफी समय लगा।
सोना संभवत: पहली धातु थी जिसका उपयोग मनुष्य ने सबसे पहले करना शुरू किया था।

प्राचीन सभ्यताओं के विकास के इतिहास से यह जानकारी मिलती है, कि मिस्त्र नदी की रेत को धो–छान कर सोना को कणों के रूप में प्राप्त किया जाता था।
तब प्रस्तर काल के स्वर्ण आभूषणों के भिन्न-भिन्न अवशेष उस समय के मनुष्य की कार्यकुशलता और दक्षता के प्रमाण देते हैं।
ईसा से चौदह शताब्दी पूर्व के मिस्त्री फराह, तूतेनखामेन के कब्रगाह से शुद्ध सोने से बने अनमोल बर्तन और आभूषण प्राप्त हुए थे।
फराह के सोने के ताबूत का वजन लगभग 110 किलोग्राम था।

element block
मिस्त्र और मेसोपोटेमिया के प्राचीन अवशेषों से जो वस्तुएं प्राप्त हुआ हैं, उनमें तांबे की वस्तुएं भी मौजूद हैं।
ये वस्तुएं 3500 वर्ष पहले तांबे से बनाया हुआ था। और ऐसा माना जाता है, कि सोने धातु के बाद तांबा दूसरी धातु थी, जो मनुष्य ने इस्तेमाल की।
तांबे धातु के बाद टिन धातु का आविष्कार किया गया था। मिस्त्र में यह धातु लगभग 300 ई.पू. मिश्रधातु के रूप में इस्तेमाल की जाती थी।
मिस्त्र की खुदाई में ईसा से 1200 वर्ष पहले का टिन का बना गुलदस्ता प्राप्त हुआ है।
मिस्त्र की एक कब्रगाह से ईसा से 1580-1350 वर्ष पहले की बनी टिन धातु की अंगूठी और बोतल प्राप्त है। और इसे टिन की वस्तुओं में इन्हें सबसे ज्यादा पुराना माना जाता है।

3. रसायन विज्ञान के जनक |


दोस्तों रसायन विज्ञान के जनक के रूप में किसे माना जाता कौन है ?, दोस्तों रसायन विज्ञान के जनक कौन है ?, दोस्तों रसायन विज्ञान के पिता कौन है ? इस प्रकार के सवालों से बहुत से गलतफहमी उत्पन्न होती है.. जबकि होना भी स्वभाविक है, क्योंकि एक नाम तो आते नहीं है, कभी अंटोनी लेवोसियर, तो कभी अ रॉबर्ट बॉयल, जोन्स बेर्सेलियस, जब्बर इब्न हायेन और जॉन डाल्टन आते है,

4. अंटोनी लेवोसियर (Antoine Lavoisier)


एंटोनी लेवईज़िएयर को ही ज्यादातर के देशों में रसायन विज्ञान के जनक मानें जाते हैं | इनके द्वारा लिखी हुई पुस्तक जिसका नाम ‘‘तत्वों के रसायन’’ है,
उसी पुस्तक के कारण ही उन्हें Chemistry का जनक/पिता माना जाता है | उस पुस्तक में तत्व हाइड्रोजन और ऑक्सीजन का पता लगाने वर्णन है |
जोन्स बेर्सेलियस, रॉबर्ट बॉयल, जब्बर जॉन डाल्टन और इब्न हायेन को दुनिया के कुछ देशों में या कुछ समय पहले इन लोगों को Chemistry का पिता माना जाता था |
रसायन विज्ञान के जनक के तौर पर एंटोनी लेवईज़िएयर, जोन्स बेर्सेलियस, रॉबर्ट बॉयल, जब्बर जॉन डाल्टन और इब्न हायेन को जाना जाता है |
अंटोनी लेवोसियर (Antoine Lavoisier) को रसायन विज्ञान का जनक माना जाता है।


5. रसायन विज्ञान की मुख्य शाखाएं


अकार्बनिक रसायन :-
इसके अंतर्गत सिर्फ कार्बनिक यौगिकों को छोड़कर शेष सभी तत्त्वों और उनके यौगिकों के बनाने की विधि और उसके गुण-धर्म तथा उपयोग एवं संघटन का अध्ययन किया जाता है।

कार्बनिक रसायन :-
इसके अंतर्गत कार्बन और इसके यौगिकों का अध्ययन किया जाता है।

1. भौतिक रसायन Physical Chemistry :-
इसके अंतर्गत भौतिक अभिक्रियाओं के सिद्धांतों तथा नियमों का अध्ययन किया जाता है।

2. जीव रसायन Bio-Chemistry :-
इसके अंतर्गत जीवधारियों में होने वाली रासायनिक अभिक्रियाओं और प्राणियों तथा वनस्पतियों से प्राप्त किये गये पदाथों का अध्ययन किया जाता है।

3. औषधि रसायन Pharmaceutical Chemistry :-
इसके अंतर्गत प्राणियों के इस्तेमाल में आने वाली औषधियों / दवाओं, और उनके संघटन व बनाने की विधियों का अध्ययन किया जाता है।

4. कृषि रसायन Agricultural Chemistry :-
इसके अंतर्गत कृषि से जुड़े रसायनों का अध्ययन होता है।

5. नाभिकीय रसायन Nuclear Chemistry :-
इसके अंतर्गत नाभिकीय क्रियाओं, रेडियो एक्टिव तत्व और इसके अनुप्रयोगों का अध्ययन होता है।

6. औद्योगिक रसायन Industrial Chemistry :-
इसके अंतर्गत पदार्थों का व्यापारिक मात्रा में निर्माण करने वाले उधोंगो से जुड़े नियमों, अभिक्रियाओं, विधियों एवं अन्य का अध्ययन किया जाता है।

7. विश्लेषणात्मक रसायन Analytical Chemistry :-
इसके अंतर्गत पदाथों की पहचान करना और उनकी सही मात्रा निर्धारित करने का अध्ययन किया जाता है।

6. रसायन विज्ञान की तत्व को अवश्य देखे !



periodic-system of chemistry
w G P

Tag :-

Jane

know about

sikhe

samjhe

padhe

kya kaise

adarshc

adarsh.com

adarshc.com

Download

हिन्दी में

सिखे


You may like related post:

विविध के बारे में पढे विज्ञान के बारे में पढे वैज्ञानिक के बारे में पढे जिव विज्ञान के बारे में पढे भौतिक विज्ञान के बारे में पढे रसायन विज्ञान के बारे में पढे विज्ञान एव प्रोधौगिकी के बारे में पढे विज्ञान विषय के अन्य लेख को पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

Comments are as...


Total number of Comments in this page are 0.

☆ Leave Comment...